कुम्‍हारी ओवरब्रिज हादसे में दंपती की मौत के बाद अनाथ बच्‍ची को सरकार ने लिया गोद

रायपुर। छत्‍तीसगढ़ के दुर्ग जिले के कुम्‍हारी फ्लाईओवर ब्रिज हादसे में दंपती की मौत के बाद अनाथ हुई बच्ची को छत्‍तीसगढ़ सरकार ने गोद लिया है। बच्ची की समस्त जिम्मेदारी अब सरकार की है। मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। सीएम बघेल ने ट्वीट कर लिखा, इस दुखद घटना में अनाथ हुई बच्ची अब हम सबकी जिम्मेदारी है। हमने इस बच्ची को गोद लेने का निर्णय लिया है। बच्ची की समस्त जिम्मेदारी अब सरकार की है।

मालूम हो कि कुम्हारी फ्लाईओवर ब्रिज हादसे में स्वजनों को खो चुकी अन्नू देवांगन को निर्माण कंपनी रायल इंफ्रा भी पंद्रह लाख रुपये प्रदान करेगी। कंपनी इस अनाथ बच्ची के परवरिश की संपूर्ण जिम्मेदारी भी उठाएगी। बता दें कि कुम्हारी के निर्माणाधीन फ्लाई ओवर दुर्घटना मामले में पुलिस ने ठेका कंपनी रायल इंफ्रा कंट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड के सीनियर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है। इसी मामले में डायरेक्टर जितेंद्र जैन, श्रेयांश जैन, प्रोजेक्ट हेड अनिरुद्ध जैन और प्रोजेक्ट मैनेजर संतानु मलिक को भी आरोपित बनाया गया है। फिलहाल चारों आरोपित फरार हैं।

ज्ञात हो कि शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात सब्जी विक्रेता आरजू देवांगन और उनकी पत्नी निर्मला देवांगन तथा उनकी पुत्री अन्नू कुम्हारी फ्लाईओवर ब्रिज से मोपेड पर जा रहे थे। उनकी मोपेड अधूरे ओवरब्रिज से नीचे गिर गई। हादसे में आरजू देवांगन तुरंत नीचे गिर गए परंतु निर्मला कुछ देर ब्रिज से लटकी रहीं। बाद में वह भी नीचे गिर गईं किंतु गिरने से पूर्व उन्होंने अन्नू को ऊपर ब्रिज पर फेंक दिया जिससे उसकी जान बच गई। पति पत्नी की मौत के बाद अन्नू अकेली हो गई है। 12 वर्षीय अन्नू की दो बड़ी बहनों की शादी हो चुकी है। अन्नू अपने मामा भंगीलाल देवांगन के पास गंडई में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube