वाहन खरीदने से पहले बताना होगा ओटीपी, वरना नहीं मिलेगी गाड़ी ,छत्तीसगढ़

रायपुर-  अब गलत मोबाइल नंबर से दोपहिया, चारपहिया या फिर भारी वाहन खरीदी के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाएंगे। क्योंकि परिवहन विभाग द्वारा प्रदेशभर में एक नई व्यवस्था शुरू की है। इसके तहत अब वाहन खरीदने वाले को अपना सही मोबाइल नंबर देना जरूरी होगा। क्योंकि अब उसी नंबर पर ओटीपी आएगा, जिसे डीलर को बताने के बाद ही प्रक्रिया आगे बढ़ पाएगी।

साथ ही परिवहन विभाग द्वारा रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा होने से लेकर नंबर प्लेट निकलने की भी जानकारी उसी नंबर पर दी जाएगी। साथ ही स्पीड पोस्ट के लिए संदेश भी उसी नंबर पर जारी किया जाएगा। ताकि वाहन खरीदने वाले को रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा होने से लेकर इसका नंबर और नंबर प्लेट निकलने की भी जानकारी मिलेगी। जबकि गलत मोबाइल नंबर देने पर न तो मोबाइल पर ओटीपी ही आएगा और न ही रजिस्ट्रेशन ही हो पाएगा। इस नई व्यवस्था पर परिवहन अधिकारियों का कहना है कि कई बार डीलर्स फर्जीवाड़ा करते थे और अपने ही कर्मचारियों के नंबर डालकर रजिस्ट्रेशन किया करते थे। इसे देखते हुए वास्तविक वाहन स्वामी की जानकारी अपडेट करने के लिए यह व्यवस्था शुक्रवार से प्रदेशभर के लिए लागू की गई है।

वाहन स्वामी की सटीक जानकारी रखने बनाई व्यवस्था

राजधानी सहित प्रदेशभर में अब वाहन स्वामियों की सटीक जानकारी अपडेट रखने के लिए यह व्यवस्था लागू की गई है। ताकि वाहन स्वामी का वास्तविक मोबाइल नंबर अपडेट किया जा सके। जबकि घर के पते पर आरसी भेजने की सुविधा पहले ही लागू की जा चुकी है, ताकि वाहन स्वामी के पते का सत्यापन आसानी से किया जा सके।

ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर सीधे मोबाइल पर ही चालान

राजधानी सहित प्रदेश के कई शहरों में अब आईटीएमएस (इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम) शुरू किया जा रहा है। वहीं, राजधानी में तो इसकी शुरूआत दो से तीन वर्ष पहले ही हो चुकी है। इसमें ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर लोगों को मोबाइल पर ही ई चालान भेजा जा रहा है। ऐसे में इस नई व्यवस्था के तहत ट्रैफिक के नियम तोड़ने वालों पर भी नकेल कसी जा सकेगी।

एपाइंटमेंट लेकर कैंसिल करवा रहे हैं बुकिंग

परिवहन विभाग के अफसरों के अनुसार कई बार एजेंट्स की वजह से उन्हें परेशान होना पड़ता है। जिसमें फिटनेस के मामले सबसे ज्यादा है। क्योंकि एजेंट्स इसके लिए बुकिंग कर एपाइंटमेंट तो ले लेते हैं, लेकिन समय पर नहीं आकर इसे कैंसिल कर देते हैं। ऐसे में सटीक मोबाइल नंबर होने पर उक्त व्यक्ति स्वयं उपस्थित होगा और परेशानी नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube