“भगवान के घर देर है अंधेर नही” आज साबित हो गया…. अंबिका पटेल

खेल के प्रति इतनी उत्सुकता की पैसे नहीं होने की दशा में मोहल्ले के लोग मदद कर बच्ची को भेजे बॉक्सिंग चैंपियन में तो बच्ची ले आई गोल्ड मेडल… वाको इंडिया नेशनल सीनियर एंड मास्टर्स किक बॉक्सिंग चैंपियन शिप में शामिल होने के लिए अंबिका पटेल छत्तीसगढ़ से तमिल नायडू (चेन्नई ) गई हुई थी

news bindass
news bindass

जहा से दो गोल्ड और एक सिल्वर मेडल लेकर छत्तीसगढ़ लौटी है ….जहा उनके सम्मान के लिए रायपुर के वरिष्ठ लोग शामिल हुए…

news bindass
news bindass

स्थानीय नेता और समाज सेवक हसन आबदी की मदद से अंबिका पटेल को नई पंख मिल गई…अंबिका के पास चेन्नई जाने के लिए पैसे तक नहीं थे लेकिन कहावत है न “भगवान के घर देर है अंधेर नही” आज साबित हो गया….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube