छत्तीसगढ़ी संस्कृति से प्रेरित मूवी “भूलन द मेज” देखने पहुंचे.. मंत्री, विधायकों और मुख्यमंत्री …….

रायपुर   –   नेशनल फ़िल्म अवार्ड से सम्मानित फ़िल्म भूलन द मेज देखने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पहुंचे हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं और मीडिया के साथ मुख्य़मंत्री फिल्म भूलन द मेज देखेंगे। संकल्प शिविर के साथ कांग्रेस नेताओं, विधायकों और मंत्रियों के साथ मुख्यमंत्री फिल्म देखने पहुंचे। छत्तीसगढ़ की संस्कृति और लोकप्रचलित मान्यताओं को कहानी का रूप देकर लिखी गई संजीव बख्शी के उपन्यास भूलन कांदा पर यह फ़िल्म आधारित है। इसका निर्देशन श्री मनोज वर्मा ने किया है।

फिल्म के टाइटल में भूलन शब्द का जिक्र है, इसका मतलब भूलन कांदा से है. यह छत्तीसगढ़ के जंगलों में पाया जाने वाला एक पौधा है, जिस पर पैर पड़ने से इंसान सब कुछ भूलने लगता है. रास्ता भूल जाता है, वह भटकने लगता है, इस दौरान कोई दूसरा इंसान जब आकर उस इंसान को छूता है तब जाकर फिर से वह होश में आता है. इसी भूलन कांदा पर ”भूलन द मेज” फिल्म बनी है. फिल्म के जरिये आज के सामाजिक, इंसानी, सरकारी व्यवस्था में आए भटकाव को दिखाया गया है. यह फिल्म भूलन कांदा उपन्यास पर आधारित है, इसके लेखक संजीव बख्शी हैं. इस फिल्म की शूटिंग गरियाबंद के भुजिया गांव में हुई थी इसमें एक्टर ओंकार दास मानिकपुरी ने काम किया है. इस फिल्म के टाइटल सॉन्ग का म्यूजिक कैलाश खेर ने दिया है.

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में छत्तीसगढ़ की फिल्म (Chhattisgarhi Film) ‘भूलन द मेज’ (Bhulan the Maze) को राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube