दुर्ग के स्टील कारोबारी आत्महत्या मामले में युवती समेत 3 गिरफ्तार

शुभम शर्मा – दुर्ग | छत्तीसगढ़ के दुर्ग शहर के बड़े स्टील कारोबारियों में शामिल आनंद राठी (38) आत्महत्या मामले में नया मोड़ आ गया है। पुलिस ने इस मामले में गुरुवार को युवती समेत 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। तीनों पर आनंद को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है। आनंद का शव करीब 7 दिन पहले 29 जुलाई को उन्हीं के घर में पंखे से लटका मिला था।

गाड़ी ठीक से चलाने को कहा, तो छेड़छाड़ का लगाया था आरोप-

जानकारी के मुताबिक, घटना वाली रात आनंद अपने दोस्तों को छोड़कर रात करीब 2.30 बजे घर लौटे थे। इस दौरान वे बाहर खड़े होकर मोबाइल देख रहे थे। इसी दौरान जूहिता चावड़ा अपने दो साथियों महेंदर सिंह उर्फ रोहन सिंह और विक्की सिंह उर्फ सन्नी सिंह के साथ राजनांदगांव की ओर से एक्टिवा लहराते हुए आ रहे थे। आनंद ने उन्हें गाड़ी ठीक से चलाने के लिए कहा। आरोप है कि इसके बाद तीनों ने उनसे गाली-गलौच शुरू कर दिया। आनंद घर में चले गए तो आरोपियों ने पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। जूहिता ने कपड़े फाड़ने और अश्लील हरकत करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराने की धमकी दी। लांछन से परेशान होकर आंनद ने सुसाइड कर लिया।

आरोपी जूहिता का पति भी पॉक्सो में बंद है-

थाना प्रभारी राजेश बागड़े ने बताया कि जूहिता का पति राजनांदगांव निवासी जैस चावड़ा में दुष्कर्म और पॉक्सो में पहले से ही जेल में बंद है। 28 जुलाई की रात भी जूहिता राजनांदगांव के लालबाग थाने में एक छेड़छाड़ की एफआईआर दर्ज कराकर आ रही थी। जांच में आत्महत्या को उकसाने की पुष्टि होने पर गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस को मिले सुसाइड नोट में खुद से मरने की बात कही थी-

आनंद राठी का शव बुधवार तड़के उनके घर के ही कमरे में पंखे से फंदे में लटका मिला था। पुलिस को मिले सुसाइड नोट में लिखा था, मां की बहुत याद आती है। आनंद की मां का करीब एक-डेढ़ साल पहले निधन हो गया था। अंग्रेजी में लिखे हुए सुसाइड नोट में आनंद ने अपनी मौत के लिए खुद को जिम्मेदार बताया था। पुलिस जांच में यह भी पता चला है कि राजनांदगांव निवासी जूहिता का पति जैस चावड़ा पर नाबालिग से दुष्कर्म का आरोप है। वह इस मामले में पॉक्सो के तहत जेल में बंद है। वहीं, जूहिता जिस बाड़ी में काम करती थी, उसके मालिक के खिलाफ भी छेड़छाड़ का केस राजनांदगांव के लालबाग थाने में दर्ज कराया था। इसके बाद उसने केस को खत्म करने के लिए बाड़ी मालिक से 50 हजार रुपए वसूले थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube