कोरोना संक्रमण काल में भीड़ इकट्ठा न करें अपने-अपने घर जाएं, तो नशेड़ी युवक ने पुलिस आरक्षक को धमकाते हुए, फाड़ दी वर्दी

शुभम शर्मा – दुर्ग | कोरोना वायरस लॉकडाउन में भीड़ लगाने से मना करने पर नशेड़ी युवकों ने पुलिस आरक्षक की वर्दी फाड़ दी। सिविक सेंटर मैदान में युवक भीड़ लगाए बैठे हुए थे। डॉयल 112 का आरक्षक मौके पर पहुंचा उन्हें समझाया कि लॉकडाउन है। भीड़ में न खड़े हो और घर जाओ। इतने में वहां खड़े आधा दर्ज युवकों में एक युवक अपनी बाइक छोड़कर चला गया। थोड़ी ही देर में एक बाइक पर दो युवक आए और शराब के नशे में आरक्षक से विवाद करने लगे। मारपीट के बीच आरक्षक की वर्दी फाड़ दी। आरक्षक संगम प्रसाद वर्मा की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 186, 294, 353, 506 के तहत जुर्म दर्ज किया। आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है।

पेट्रोलिंग के पहुंचने से पहले भागे आरोपी युवक


भिलाई नगर टीआई त्रिनाथ त्रिपाठी ने बताया कि घटना मंगलवार रात 8.30 बजे की है। रुआबांधा से प्लाइंट मिला। डायल 112 पर तैनात आरक्षक संगम प्रसाद वर्मा चालक प्रकाश साहू के साथ रुआंबाधा जा रहे थे। सिविक सेंटर मैदान के पास करीब आधा दर्जन युवक खड़े हुए थे। संगम ने कहा उन्हें भीड़ न लगाने की हिदायत देते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण काल में भीड़ इकट्ठा न करे। अपने- अपने घर जाएं। सभी युवक मौके से निकल गए। एक युवक अपनी बाइक छोड़ दिया था। संगम ने बाइक को लावारिस समझकर उसके मालिक को देखने लगा। तब तक एक बाइक पर दो युवक पहुंचे। बाइक से उतरे और विवाद करने लगे।

युवकों ने की झुमाझटकी, आरक्षक की वर्दी फटी


आरक्षक ने नशेड़ी युवओं को समझाने का प्रयास किया। लेकिन युवक मारपीट पर उतर गए। खींचतान में आरक्षक की वर्दी की जेब फट गई। नेमप्लेट और वर्दी के तीन बटन टूट गए। मामला बढ़ता देख आरक्षक ने पेट्रोलिंग पार्टी को फोन कर बुलाया। तब युवक वहां से भाग निकले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube