रोजगार सहायक की काली कारनामों से पूरा गांव परेशान

कबीरधाम | ग्राम पंचायत बोरिया जनपद पंचायत बोड़ला में रमेश निर्मलकर ग्राम पंचायत रोजगार सहायक के पद पर पदस्थ है। जिनके द्वारा अपने पद का दुरुपयोग किया जा रहा है, उक्त रोजगार सहायक के द्वारा अपनी मनमानी गांव में राजनीति किया जाता है एवं पक्षपात रवैए से कार्य किया जा रहा है।

चित्र 01

बिना 400 या 50 रुपए लिए लोगों का जॉब कार्ड नहीं बनाया जाता है, जिससे लोगों को मजदूरी नहीं मिल रही है। प्रितम पटेल से पैसे की मांग की गई तो गरीब परिवार होने के कारण पैसा नहीं दे पाया तो उनका अभी तक जॉब कार्ड नहीं बनाया गया। ग्राम पंचायत में मनरेगा के तहत कोई कार्य नहीं मिल पा रही है।

चित्र 02

मनरेगा के तहत फर्जी हाजिरी डालकर शासन की पैसों का गबन किया जा रहा है, उनके घर में प्रत्येक सदस्य के नाम से एक एक फर्जी जॉब कार्ड बनाया गया है, जिससे हाजिरी डालकर पैसों का गबन किया जा रहा है। जानकारी देने की कोशिश की जाती है तो उल्टा लोगों को धमकाना शुरू करने लगता है और जेल भिजवाने की धमकी भी देता है। अपने पद का दुरुपयोग करते हुए लोगों को योजनाओं से वंचित किया जाने लगा और कहता है कि तुम लोग मेरे विरुद्ध में शिकायत करते हो तुम्हें मनरेगा में काम नहीं करने देंगे और तुम्हारा आवास नहीं आने दूंगा। उक्त रोजगार सहायक को ग्राम रोजगार सहायक के पद से तत्काल हटाने एवं उनके कालेकारनामों में जांच कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही किया जाना चाहिए।

चित्र 03

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Subscribe us on Youtube